एंटीगुआ और बारबुडा के प्रधान मंत्री, गैस्टन ब्राउन ने फ्रेमवर्क समझौते पर हस्ताक्षर किए

एंटीगुआ और बारबुडा मंगलवार को सेंट जॉन्स, एंटीगुआ में आईएसए फ्रेमवर्क समझौते पर हस्ताक्षर करके अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) के 102वें सदस्य बन गए।

2015 में पेरिस में COP21 जलवायु सम्मेलन के मौके पर भारत और फ्रांस द्वारा संयुक्त रूप से गठबंधन की स्थापना की गई थी।

एंटीगुआ और बारबुडा गैस्टन ब्राउन के प्रधान मंत्री ने गुयाना में भारतीय उच्चायुक्त केजे श्रीनिवास की उपस्थिति में फ्रेमवर्क समझौते पर हस्ताक्षर किए, जो एक यात्रा पर हैं। गुयाना में भारतीय उच्चायोग के एक बयान में कहा गया है कि एंटीगुआ और बारबुडा को।

आईएसए की कल्पना सौर संसाधन संपन्न देशों के गठबंधन के रूप में की गई है ताकि उनकी विशेष ऊर्जा जरूरतों को पूरा किया जा सके और एक आम और सहमत दृष्टिकोण के माध्यम से पहचाने गए अंतराल को दूर करने के लिए सहयोग के लिए एक मंच प्रदान किया जा सके।

आईएसए का शुभारंभ 30 नवंबर, 2015 को पार्टियों के 21वें सम्मेलन (सीओपी21) में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, फ्रांस के प्रधान मंत्री फ्रेंकोइस ओलांद द्वारा किया गया था। इस अवसर पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून भी मौजूद थे।

उच्चायोग के बयान में कहा गया है कि आईएसए की स्थापना करने वाले पेरिस घोषणापत्र में कहा गया है कि सौर उत्पादन परिसंपत्तियों की तत्काल तैनाती के लिए वित्त की लागत और प्रौद्योगिकी की लागत को कम करने के लिए अभिनव और ठोस प्रयास करने के लिए देश सामूहिक महत्वाकांक्षा को साझा करते हैं।

यह 2030 तक सौर निवेश में 1 ट्रिलियन अमरीकी डालर जुटाकर प्रत्येक संभावित सदस्य देशों की व्यक्तिगत जरूरतों के लिए भविष्य के सौर उत्पादन, भंडारण और अच्छी प्रौद्योगिकियों का मार्ग प्रशस्त करेगा।

बयान में कहा गया है कि आईएसए के इन उद्देश्यों को प्राप्त करने से देशों को अपने राष्ट्रीय स्तर पर निर्धारित योगदान (एनडीसी) में अंकित जलवायु लक्ष्यों को प्राप्त करने में भी मदद मिलेगी।

आईएसए का उद्देश्य सौर ऊर्जा के तेजी से और बड़े पैमाने पर परिनियोजन के माध्यम से पेरिस जलवायु समझौते के कार्यान्वयन में योगदान करना है।

आईएसए लगातार अपने संगठन का निर्माण कर रहा है और आईएसए फ्रेमवर्क समझौते पर हस्ताक्षर करने वाले 101 देशों के साथ संबंध स्थापित कर रहा है, जिनमें से 80 देशों ने आईएसए के पूर्ण सदस्य बनने के लिए अनुसमर्थन के आवश्यक दस्तावेज जमा कर दिए हैं।