महामारी से लड़ाई में भारत कि और अन्य देशों ने भी हाथ बढ़ाया

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने गुरुवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर से निपटने के लिए भारत को विदेशो से लगभग 550 ऑक्सीजन संयंत्र, 4,000 ऑक्सीजन सांद्रता और 10,000 ऑक्सीजन सिलेंडर मिलेंगे। यह एक आपात स्थिति है। हम कई देशों से ऑक्सीजन, दवाओं के सोर्स ढूंढ़ रहे हैं। हमें सहायता देने के लिए कई देश अपने दम पर आगे आए हैं। देशों ने कहा कि उन्होंने हमारी सहायता की सराहना की और वे हमें भी इस भयावह स्थिति में मदद करना चाहते हैं। जिनमे 40 देश शामिल है।



उन्होंने कहा कि भारत संयुक्त अरब अमीरात, बांग्लादेश और उज्बेकिस्तान, मिस्र जैसे देशों से रेमेडिसविर दवा की 400,000 यूनिट खरीद रहा है।


विदेश सचिव ने कहा कि सरकार प्रमुख रूप से ऑक्सीजन जनरेटर, सांद्रक, ऑक्सीजन सिलेंडर, क्रायोजेनिक टैंकर और साथ ही तरल ऑक्सीजन की खरीद पर ध्यान केंद्रित कर रही है।


उन्होंने कहा कि प्रत्यक्ष आपूर्ति और अन्य तरीकों से चिकित्सा आपूर्ति को बाधित किया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि अमेरिका से बड़ी मात्रा में चिकित्सा आपूर्ति करने वाले दो विशेष विमान शुक्रवार तक भारत पहुंच सकते है।