प्रधानमंत्री मोदी के साथ शिखर बैठक आयोजित करने के लिए ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन अगले सप्ताह भारत आने वाले थे

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कोरोनोवायरस की बढ़ते प्रकरणों के कारण अपनी 25 अप्रैल की भारत यात्रा रद्द कर दी है। अब वह इस महीने के अंत में एक आभासी प्रारूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठक करेंगे और एक नए (परिवर्तित) भारत-ब्रिटेन संबंधों के लिए योजनाएँ शुरू करेंगे, विदेश मंत्रालय ने सोमवार को एक बयान में कहा।

MEA के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की आगामी यात्रा पर मीडिया के सवालों के जवाब में कहा कि,“मौजूदा कोविड की स्थिति को देखते हुए, यह आपसी समझौते से तय किया गया है कि यूनाइटेड किंगडम के प्रधानमंत्री अगले हफ्ते भारत का दौरा नहीं करेंगे। एक परिवर्तित भारत-यू.के. के संबंध लिए योजनाएं शुरू करने के लिए दोनों पक्ष आगामी दिनों में एक आभासी बैठक करेंगे।”


उन्होंने कहा कि, "दोनों नेता भारत-यूके साझेदारी को अपनी पूर्ण क्षमता तक ले जाने के लिए सबसे अधिक महत्व देते हैं और इस संबंध में निकट संपर्क में रहने और वर्ष में बाद में आमने—सामने की बैठक के लिए तत्पर रहने का प्रस्ताव रखते हैं।"

देश में पता अभी पता चले COVID-19 के एक नए संस्करण की बढ़ती चिंताओं के बीच जॉनसन पर यात्रा को बंद करने के लिए दबाव बढ़ रहा था। सप्ताहांत में, यूके की विपक्षी लेबर पार्टी ने जूम के माध्यम से चर्चाओं को दूर से संचालित करने और भौतिक यात्रा को रद्द करने के लिए कॉल किया, जिसे सोमवार 26 अप्रैल को एक दिन के शेड्यूल पर ध्यान केंद्रित करने के लिए पहले ही छोटा कर दिया गया था।