रविवार को राजधानी ढाका के दक्षिण में स्थित शीतलक्ख्या नदी में एक मालवाहक जहाज से 150 यात्रियों से भरी नौका टकरायी

बांग्लादेश के नारायणगंज जिले में हुए एक नौका हादसे में जान गंवाने के दुखद घटना से दुखी: होकर भारत ने शोक संतप्त परिवारों और सरकार के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है।

भारत के विदेश मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता, अरिंदम बागची ने सोमवार को इस घटना पर शोक व्यक्त करते हुए कहा, "दुख: की इस घड़ी में हमारे विचार और प्रार्थना बांग्लादेश के लोगों के साथ हैं।"

बागची ने अपने ट्वीट में कहा, “बांग्लादेश में नारायणगंज जिले में एक नौका हादसे परिजनों के जान जाने पर दुखी: हैं। बांग्लादेश सरकार के प्रति हमारी गहरी संवेदना है| ”

एक रिपोर्ट के अनुसार, ढाका के दक्षिण में लगभग 16 किलोमीटर दूर मुंशीगंज में शीतलख्या नदी में मालवाहक जहाज, एसकेएल-3 से टकराकर डूब गया। पुलिस और आस-पास के लोगों ने बताया कि टक्कर के बाद मालवाहक जहाज घटनास्थल से भाग गया।

रिपोर्ट में कहा गया है कि रविवार को शीतलख्या नदी में नाव से टकराकर मरने वालों की संख्या 36 हो गई है। जिसमें अनुमानित 150 यात्री थे।