भारत और रूस द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक स्तर पर प्रमुख मुद्दों पर करेंगे चर्चा

रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव अपने भारतीय समकक्ष एस जयशंकर के साथ द्विपक्षीय वार्ता करने के लिए अगले सप्ताह भारत का दौरा करेंगे। दोनों पक्ष राष्ट्राध्यक्षों की बैठक की तैयारियों की स्थिति पर चर्चा करेंगे।

गुरुवार को रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया ज़खारोवा ने घोषणा की कि वे 5 अप्रैल को नई दिल्ली आएंगे।

रूस में एक मीडिया ब्रीफिंग में प्रवक्ता ने कहा, "5-6 अप्रैल को रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव नई दिल्ली दौरे में रहेंगे, जिसके दौरान वह अपने समकक्ष (विदेश मंत्री एस जयशंकर) के साथ वार्ता करेंगे।"

"विदेशी मामलों की एजेंसियों के प्रमुख द्विपक्षीय संबंधों, इस वर्ष आगामी उच्च स्तरीय बैठक की तैयारी, महामारी के खिलाफ लड़ाई में सहयोग की वर्तमान स्थिति पर चर्चा करेंगे इसके साथ ही क्षेत्रीय, वैश्विक एजेंडा पर प्रमुख विषयों पर विचार करेंगे और संयुक्त राष्ट्र, ब्रिक्स सहित रूस और भारत के बीच अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र पर बातचीत के दृष्टिकोण का भी आकलन करेंगे," ज़खारोवा ने कहा।

भारतीय विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने इस साल फरवरी में रूस का दौरा किया था, जहां उन्होंने लावरोव से मुलाकात की थी और दोनों देशों के बीच विशेष और विशेषाधिकार प्राप्त सामरिक साझेदारी और इसे ज्यादा मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की थी। श्रृंगला ने कहा था कि उन्होंने यूएन और यूएनएससी में सहयोग सहित हितों के कुछ क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा की, जहां भारत अब एक गैर-स्थायी सदस्य है।

उन्होंने कहा, "हमने अफगानिस्तान जैसे मुद्दों पर भी बात की, जिसमें दोनों देशों की सीधी दिलचस्पी है।"